मैं जीत जाउंगी Main Jeet Jaungi Lyrics In Hindi – Anupriya Lakhawat

Main Jeet Jaungi Lyrics Latest 2022 Hindi Song Sung By Anupriya Lakhawat Is Women’s Day Dependent, while lyrics are penned by Rahul Choudhary & Anupriya Lakhawat and music is given by Himanshu Katara.

1985 में नैरोबी में महिलाओं पर संयुक्त राष्ट्र के तीसरे विश्व सम्मेलन में एक अवधारणा के रूप में महिला सशक्तिकरण की शुरुआत की गई, जिसने इसे महिलाओं के पक्ष में सामाजिक और आर्थिक शक्तियों के पुनर्वितरण और संसाधनों के नियंत्रण के रूप में परिभाषित किया।

1848 ई. में जब भारत को अपनी पहली महिला शिक्षिका “सावित्रीबाई फुले” के रूप में मिली। यह वर्ष भारत में महिला सशक्तिकरण के उदय का प्रतीक है क्योंकि सावित्रीबाई फुले ने सामाजिक आदर्श को तोड़ दिया है कि एक महिला को शिक्षित नहीं किया जा सकता है। इस आंदोलन का प्रभाव इतना गहरा था कि 100 साल बाद, एक राष्ट्र के रूप में भारत ने एक महिला के नेतृत्व को स्वीकार किया और इंदिरा गांधी को भारत की पहली महिला प्रधान मंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई। ऐसा कहा जाता है कि आकाश सीमा है, लेकिन “महिला सशक्तिकरण” शब्द ने उस विचार को तोड़ दिया और कल्पना चावला अंतरिक्ष में यात्रा करने वाली पहली भारतीय महिला बन गईं। ये सभी गतिविधियाँ महिला सशक्तिकरण का फल हैं।



Song Details:

Song Title Main Jeet Jaungi
Singer Anupriya Lakhawat
Lyrics Rahul Choudhary & Anupriya Lakhawat
Music Himanshu Katara
Label Anupriya Lakhawat

 

मैं जीत जाउंगी Main Jeet Jaungi Lyrics In Hindi

छू के आसमां को
परिंदो सी उड़ जाने दो
चीर के तूफानों को
बेखौफ हो मुड जाने दो
बंदिश तोड़ ज़माने की
आशा के पर लग जाने दो
छोड़ के सायों को सरदी में
धुंध सी घुल जाने दो

काट के ये सदियां
आंगन में साज छेड़े
हवाओं में मौसम के
गुलाल उड़ा कर

घूंघट के पंख लगा कर
आंचल को मुट्ठी में पकड़े

मैं जीत जाऊंगी
मैं जीत जाऊंगी
मैं जीत जाऊंगी
ओ.. मैं जीत जाऊंगी…

सदियों से ये जंजीरें
डाली तेरे पांवों मे
रस्मों की ये तकरीरें
लिख दी तेरी राहों में

अब बांध ले तू मंजीरे
और तोड़ दे सारी कसमें
जुगनू सी ये आजादी
भर ले अपनी बाहों में

लांघ के ये देहरी
पगडंडियों को तोड़े
हवाओं में, मौसम के
गुलाल उड़ा कर

घूंघट के पंख लगा कर
आंचल को मुट्ठी में पकड़े

मैं जीत जाऊंगी
मैं जीत जाऊंगी
हाँ जीत जाऊंगी
ओ.. मैं जीत जाऊंगी

हाँ मैं ये सपने
जीत जाउंगी..



Main Jeet Jaungi Lyrics (English Fonts)

Chhu ke aasaman ko
Parindon si ud jaane do
Chir ke Tufanon ko
Bekhouf ho mud jaane do

Bandish tod zamane ki
Aasha ke par lag jaane do
Chhod ke saayo ko sardi mein
Dhundh si ghul jaane do

Kaat ki ye sadiyan
Aangan mein saaj chhede
Hawaaon mein mousam ke
Gulal uda kar

Ghunghat ke pankh laga kar
Aanchal ko muthhi mein pakade

Main Jeet Jaungi
Main Jeet Jaungi
Main Jeet Jaungi
O..Main Jeet Jaungi…

Sadiyon se ye janjeerein
Daali tere paanvon mein
Rasmon ki ye tarirein
Likh di teri raahon mein

Ab baandh le tu manjeere
Aur tod de saari kasamein
Juganu si ye aajadi
Bhar le apni baahon mein

Laangh ke ye dehari
Pagadandiyon ko tode
Hawaaon mein mousam ke
Gulal uda kar

Ghoonghat ke pankh laga kar
Aanchal ko muthhi mein pakade

Main Jeet Jaungi
Main Jeet Jaungi
Haan Jeet Jaungi
O.. Main Jeet Jaungi…

Haan main ye sapne
Jeet Jaungi..

Lyrics Corrections

More Songs You May Like:

Paani Paani Rajasthani Song – Aakanksha Sharma
Tere Bin Kuchh Bhi Nahi – Palak Muchhal
प्यार है Pyaar Hai – Payal Dev
रुला देती है Rula Deti Hai – Yasser Desai
Yaaron Sab Dua Karo – Meet Bros | Stebin Ben
पिया रंगीला Piyaa Rangeela – Rupali Jagga
हमनशी Humnashi – Palak Muchhal


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here